यूपी में अखिलेश का मैजिक ,सीएम योगी को गढ़ में हराया

0
97

लखनऊ :  यूपी की दो लोकसभा सीटों पर हुए चुनावों में सपा- बसपा गठबंधन को अच्छी जीत मिली है । इस जोड़ी ने 30 सालों का सूखा खत्म करते हुए गोरखपुर सीट पर कब्ज़ा जमा लिया है । यह सीट यूपी के मौजूदा सीएम योगी का गढ़ मानी जाती है और पिछले 25 सालों से वो यहाँ से लगातार जीतकर आ रहे हैं ,ऐसे में इस जीत का महत्व और भी बड जाता है इस जीत से ये बात तो साफ़ हो गयी की अभी भी प्रदेश में अखिलेश यादव की अच्छी पैठ है ।

इन लोकसभा सीटों के नतीजे न सिर्फ यूपी बल्कि केंद्र की राजनीति के सियासी समीकरणों में भी बड़ा बदलाव लाएंगे। खासतौर पर गोरखपुर और फूलपुर उपचुनाव को राज्य के सीएम योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य और सपा-बसपा की प्रतिष्ठा से जोड़कर देखा जा रहा है। गोरखपुर-फूलपुर उपचुनाव से पहले यूपी की राजनीति ने नई करवट ली है। मतदान से ठीक पहले जहां चिर प्रतिद्वंद्वी सपा-बसपा ने हाथ मिला लिया, वहीं राज्यसभा चुनाव में सपा-बसपा के साथ कांग्रेस भी भाजपा के खिलाफ एक मंच पर आ गई है।View image on Twitterजाहिर तौर पर अगर उपचुनाव के नतीजे सपा के पक्ष में रहे तो इन तीनों दलों के लोकसभा चुनाव से पूर्व एक मंच पर आने की संभावना और मजबूत हो जाएगी। चूंकि ये दोनों सीटें सीएम योगी और डिप्टी सीएम मौर्य के इस्तीफे से खाली हुई है, इसलिए इसे न सिर्फ भाजपा बल्कि योगी-मौर्य की प्रतिष्ठा से भी जोड़ कर देखा जा रहा है। अगर सत्तारूढ़ दल अपनी दोनों सीटें जीतने में कामयाब रहा तो सपा-बसपा-कांग्रेस के एक मंच पर आने की संभावनाओं पर ग्रहण लगने के आसार बनेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here