गायक सोनू निगम ने गुपचुप ढंग से की उत्तराखंड की यात्रा , जानिए क्या थी वजह - Lucknow Headline
Home उत्तराखण्ड गायक सोनू निगम ने गुपचुप ढंग से की उत्तराखंड की यात्रा , जानिए...

गायक सोनू निगम ने गुपचुप ढंग से की उत्तराखंड की यात्रा , जानिए क्या थी वजह

0
153

ऋषिकेश : उत्तराखंड न केवल अपनी खूबसूरती बल्कि अध्यात्म के लिए भी पूरी दुनिया में जाना जाता है ।  हरिद्वार, ऋषिकेश ,केदारनाथ अदि तमाम बड़े धार्मिक स्थल उत्तराखंड में मौजूद हैं , उत्तराखंड के कण कण में भगवन का वास है इसीलिए इसे देवभूमि भी कहते हैं । यही वजह है की सुपरस्टार रजनीकांत से लेकर पीएम मोदी तक देश के तमाम बड़े लोग उत्तराखंड आते हैं । इसी कड़ी में प्रख्यात पाश्र्व गायक सोनू निगम भी उत्तराखंड आए थे लेकिन उनका यह दौरा गोपनीय था क्योंकि यह निजी दौरा था और वह नहीं चाहते थे मीडिया को इसका पता चले ।

गुपचुप ढंग से तीर्थनगरी की चार-दिवसीय आध्यात्मिक यात्रा पर आए प्रख्यात पाश्र्व गायक सोनू निगम वापस लौट गए। इस दौरान उन्होंने तीर्थनगरी में विभिन्न मंदिर-मठों के दर्शन किए। उनका यह दौरा इस कदर गोपनीय था कि किसी को भनक तक नहीं लगी।

चार दिन तक गोपनीय ढंग से तीर्थनगरी घूमते रहे प्रसिद्ध गायक सोनू निगम

 

सोनू निगम करीब चार दिन पूर्व ऋषिकेश आये थे। इस बार नवरात्र के दौरान उन्होंने मां कुंजापुरी व भद्रकाली मंदिर में दर्शन भी किए। बीते रोज वह भावातीत ध्यान योग के प्रणेता महर्षि महेश योगी की योग एवं आध्यात्मिक विरासत चौरासी कुटी के दर्शनों को पहुंचे। बुधवार सुबह ऋषिकेश से विदा लेते हुए उन्होंने अपने कुछ करीबी लोगों से तपोवन स्थित एक होटल में भेंट की।

सारथी सामाजिक संगठन के कार्यकारी अध्यक्ष एवं स्वच्छ भारत मिशन के ब्रांड एंबेसडर रवि शास्त्री ने भी सोनू से मुलाकात कर उन्हें गंगोत्री धाम से लाया गया गंगाजल प्रदान किया।

चर्चा के दौरान सोनू निगम ने कहा कि तीर्थनगरी ऋषिकेश से उनका पुराना नाता है। इसलिए जब भी समय मिलता है, ऋषिकेश जरूर आते हैं। कहा कि महर्षि महेश योगी की विरासत चौरासी कुटी वास्तव में अद्भुत है। यदि आज महर्षि होते तो इस आध्यात्मिक क्षेत्र का नजारा ही कुछ और होता। उन्होंने चौरासी कुटी के संरक्षण के लिए राजाजी पार्क के अधिकारियों की सराहना की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here