राजनीति में दिख रहा है प्रिया प्रकाश का मैजेक, पार्टी पोस्टर में फोटो

0
36

नई दिल्ली: रातों रात एक वीडियो के वजह से पॉपूलर हुई प्रिया प्रकाश वॉरियर आज किसी सेलेब से कम नहीं है। पिछले महीने उनके नाम को सोशल मीडिया ने झटके में एक मुकाम तक पहुंचा दिया। मौजूदा वक्त में उनके करोड़ो फॉलोअर्स हो चुके है। उनके नाम का फायदा राजनीतिक दल उठा रहे है। प्रिया प्रकाश को लेकर खबर आ रही है कि केरल में सीपीआई ने प्रिया की वायरल तस्वीर का इस्तेमाल अपने राजनीतिक फायदे के लिए कर रही है। मीडिया में आई खबर के अनुसार  सीपीआई प्रिया की फोटो की मदद से युवाओं से केरल में हो रही स्टेट कॉन्फ्रेंस में शामिल होने की अपील कर रही है,  इस बारे में एआईएसएफ यानी ऑल इंडिया स्टूडेंट फेडरेशन का कहना है कि, प्रिया प्रकाश की तस्वीर का प्रयोग उन फिल्म निर्माताओं के साथ एकजुटता प्रदर्शित करने के लिए किया जा रहा है, जो कि अक्सर कट्टरपंथियों के हमलों का सामना करते हैं।

एआईएसएफ के मुताबिक प्रिया प्रकाश की तस्वीर वाला पोस्टर अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का समर्थन करता है। इस बारे में एआईएसएफ के ज्वॉइंट सेक्रेटरी पी जमशेर ने कहा कि  प्रिया की फिल्म ‘ओरु अदार लव’ और उसके गीत के बारे में ऊपजा विवाद फाल्तू था।  ऐसे में उत्तर भारत में कट्टरपंथियों के एक सेक्शन के रूप में यह पोस्टर एक प्रतिरोध का प्रतीक हैं, जो प्रिया और फिल्म के निर्देशक का विरोध कर रहे था।

बता दें कि प्रिया प्रकाश मलायलम फिल्म ‘ओरु अदार लव’ में मूख्य भूमिका में हैं। इसी फिल्म के एक गाने का वीडियो इंटरेनेट पर वायरल हुआ था जिसने प्रिया को सेलेब्रेटी बना दिया और  प्रिया प्रकाश रातों-रात मशहूर हो गई थी। उनके गाने पर कुछ मुस्लिम कट्टरपंथियों ने आपत्ति जताई थी और उस गाने को लेकर हैदराबाद के औरंगाबाद में कुछ मुस्लिम कट्टरपंथियों ने प्रिया प्रकाश और फिल्म के डायरेक्टर उमर लुलू के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज करवाई गई थी।  मुस्लिम सम्प्रदाय का कहना था कि, ओरु अदार लव का वायरल गीत पैगंबर मोहम्मद का अपमान करता है। हालांकि बाद में इस मामले में प्रियाप्रकाश को सुप्रीम कोर्ट से राहत मिल गई थी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here