प्यार ,शादी और मर्डर

0
137

आगरा: दो लोग शादी के बंधन में बंधे, सात वचनों के साथ ही जिंदगी भर एक दूसरे का सुख-दुख में साथ निभाने की कसमें खाई। बरसों तक साथ रहे और परिवार भी बस गया। मगर, बच्चों को सीख देने की उम्र में खुद के कदम बहक गए। इसके बाद प्रेमी के साथ मिलकर पति का खून करा दिया। सिकंदरा और शाहगंज क्षेत्र में हुई दो युवकों की हत्याओं का सोमवार को पुलिस ने पर्दाफाश किया तो इससे लोग सोचने को मजबूर हुए हैं कि क्या विवाहेत्तर संबंध पति-पत्‍‌नी के रिश्ते का खून कर रहे हैं। दोनों मामलों में पुलिस ने पत्‍‌नी और प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया है।

सिकंदरा के शास्त्रीपुरम में  सड़क किनारे युवक का शव पड़ा मिला था। इसकी शिनाख्त शाहिद पुत्र अब्दुल गफ्फार निवासी नवीशाह की दरगाह बोदला जगदीशपुरा के रूप में हुई थी। उसके संबंध में मृत युवक के भाई अंसार ने थाना सिकंदरा में हत्या का मुकदमा दर्ज करा दिया। सोमवार को सिकंदरा पुलिस ने इस मामले में शाहिद की पत्‍‌नी तरन्नुम और सिकंदरा के केके नगर निवासी राजकुमार उर्फ राजू को गिरफ्तार कर लिया।

एसपी सिटी कुंवर अनुपम सिंह ने पत्रकार वार्ता में बताया कि शाहिद मूलरूप से फीरोजाबाद के रामगढ़ में कश्मीरी गेट का रहने वाला था। 12 साल पहले उसकी शादी तरन्नुम से हुई थी।  शाहिद पत्‍‌नी के साथ बोदला में किराए पर रहता था और फल की ठेल लगाता था। पड़ोस में रहने वाले राजकुमार की शाहिद से पहचान हो गई। इसके बाद वह उसके घर आने लगा। पांच माह पहले उसके तरन्नुम से प्रेम संबंध हो गए। इसके बाद दोनों ने शाहिद को रास्ते से हटाने की साजिश रची। एक जनवरी को काम खत्म होने के बाद शाहिद को राजू ने फोन करके सिकंदरा चौराहे पर बुलाया। यहां उसे शराब पिलाने के बाद फैक्ट्री एरिया में ले गया। यहां फिर से शराब पिला दी। इसके बाद गला घोंटकर उसकी हत्या की और शव सड़क किनारे फेंक दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here