ठंड के मौसम में धोनी के ICECREAM बैट ने सोशल मीडिया पर लगाई आग

0
115

नई दिल्ली:वनडे सीरीज़ में साउथ अफ्रीका को 5-1 से मात देने के बाद टीम इंडिया टी-20 सीरीज़ जीतने के इरादे से मैदान पर उतरी। बता दें कि भारत ने साल 2011 और 2006 में साउथ अफ्रीका में टी-20 सीरीज़ जीती थी। उस दौरान टी-20 सीरीज़ में केवल एक मैच खेला गया था। ये पहला मौका है जब भारतीय टीम साउथ अफ्रीका में तीन मैचों की टी-20 सीरीज खेल रहा है। भारतीय टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवर में 203 रन बनाए। भारत की ओर से बल्लेबाजी में शिखर धवन ने सबसे ज्यादा 72 रनों की पारी खेली। वहीं रैना 15 , रोहित 21, कोहली 26, पांडे 29, धोनी 16 और हार्थिक पांड्या ने 13 रनों का योगदान दिया। साउथ अफ्रीका की ओर से गेंदबाजी में जूनियर ढागा ने 2, क्रिस मॉरिस 1 , श्मशी 1 और फुलकवायो ने एक विकेट लिया।

पहले टी-20 में एक रोचक घटना घटी। आपने टी-20 में कई बल्लेबाजों को अलग तरीके का बल्ला इस्तेमाल करते हुए देखा होगा। मैथ्यू हैडन ने सबसे पहले मोंगूज बल्ले का अविष्कार किया। वहीं बिग बैश लीग में आद्रें रसेल काले रंग का बैट लेकर मैदान पर उतरे। पहले टी-20 में भारत के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी भी कुछ अलग करते नजर आए। धोनी मैदान पर आईस्क्रिम की तरह बने बल्ले के साथ मैदान पर उतरें।Related image धोनी के नए बैट ने सभी को हैरान कर दिया क्योंकि धोनी काफी कम अपने बल्ले के साथ छेड़छाड़ करते है। धोनी के इस कदम के साथ क्रिकेट को मोंगूस के बाद आईस्क्रिम बल्ला मिल गया है।Related image इस बल्ले की बनावट छोटी थी और नीचें का भाग बिल्कुल आईस्क्रिम की तरह नजर आ रहा था। धोनी का प्रयोग पहले मैच में कुछ खास साबित नहीं हुआ। उन्होंने केवल 16 रनों की पारी खेली और मॉरिस का शिकार हो गए। धोनी का ये प्रयोग देखकर कॉमेंटेटर भी हैरान हो गए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here