लखनऊ : यूपी उपचुनावों में हार के बाद दिल्ली तलब सीएम योगी आदित्यनाथ

0
35

 

लखनऊ : गोरखपुर और फूलपुर उपचुनाव के नतीजों से भारतीय जनता पार्टी सकते में है। भाजपा ने सपने में भी यह नहीं सोचा होगा की उसे गोरखपुर में हार मिलेगी । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नतीजों के बाद इसका कारण अतिआत्मविश्वास बताया है । हालांकि अब उन्हें इस करारी हार के बाद अध्यक्ष अमित शाह से रूबरू होना होगा । उपचुनावों में हार के बाद भाजपा की 2019 की तैयारियों को बड़ा झटका लगा है ।

सूत्रों से खबर है कि बीजेपी आलाकमान ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को दिल्ली बुलाया है। शनिवार शाम को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह उनसे मुलाकात कर सकते हैं । इस बैठक में गोरखपुर और फूलपुर उपचुनाव के विपरीत नतीजों पर भी चर्चा हो सकती है. शनिवार शाम 5 बजे अमित शाह और योगी आदित्यनाथ के बीच यह बैठक होगी । वहीं आपको बता दें कि इससे पहले योगी आदित्यनाथ ने हार के बाद अपने कई कार्यक्रम रद्द कर दिए थे. यूपी सीएम ने गुरुवार को होने वाले अपने सारे राजनीतिक कार्यक्रम रद्द कर दिए थे।

आपको बता दें कि बुधवार को आए गोरखपुर-फूलपुर लोकसभा सीटों के उपचुनावों के नतीजों में भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवारों को करारी हार मिली है. गोरखपुर यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ और फूलपुर डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य की सीट थी. अब तक पूर्वांचल की गोरखपुर सीट को बीजेपी का सबसे मजबूत दुर्ग माना जाता रहा है, लेकिन उपचुनाव में ये सुरक्षित किला दरक गया. पिछले 30 साल से बीजेपी के लिए अजेय रहे गोरखपुर लोकसभा सीट पर हुए उपचुनाव में बसपा के समर्थन से सपा ने जीत का परचम लहरा दिया है ।

हालांकि योगी और गोरखपुर की सियासत का सबसे बड़ा केंद्र गोरखनाथ मठ पिछले तीन दशक से है। वहीं हार पर योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि हम इस (बसपा-सपा) गठबंधन को समझने में फेल रहे, जिसका एक कारण अतिआत्मविश्वास भी है. दोनों चुनाव हमारे लिए एक सबक है, इसकी समीक्षा की काफी जरूरत है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here