बुआ- बबुआ के गठबंधन में दरार , बसपा का फैसला आने वाले उपचुनावों में समर्थन नही - Lucknow Headline
Wednesday, August 15, 2018
Home लखनऊ न्यूज़ बुआ- बबुआ के गठबंधन में दरार , बसपा का फैसला आने वाले...

बुआ- बबुआ के गठबंधन में दरार , बसपा का फैसला आने वाले उपचुनावों में समर्थन नही

0
300

लखनऊ : बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने बयान जारी कर कहा है की उनका फोकस अब लोकसभा 2019 चुनाव पर है। कल पार्टी के विधायक, वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक में मायावती ने आगे की रणनीति तय की है। जिसके तहत अब पार्टी प्रदेश में होने वाले उप चुनाव में किसी भी पार्टी का सहयोग नहीं करेगी।

उप चुनाव में अब सपा की मदद नहीं करेंगी मायावती, लोकसभा चुनाव पर फोकस

 

मायावती के इस बयान के बाद ऐसे कयास हैं कि अब बसपा कैराना लोकसभा के साथ बिजनौर के नूरपुर विधानसभा उप चुनाव में किसी भी दल का समर्थन नहीं करेगी। यह भी हो सकता है कि बसपा का कैडर उस हिसाब से चुनाव में प्रचार न करे, जैसा कि समाजवादी पार्टी के प्रत्याशियों के लिए गोरखपुर और फूलपुर की सीट पर किया था।

राजनीतिक मंझदार में फंसीं बसपा सुप्रीमो मायावती ने प्रदेश में अब सपा-बसपा गठबंधन के साथ राजनीति की मुख्यधारा में एक बार फिर वापसी की है। 2014 के लोकसभा चुनावों से मायावती को तगड़ा झटका लगा था, इसके बाद से पार्टी मुख्यधारा में आने के प्रयास में थी। कल मायावती की ओर से जारी एक प्रेस रिलीज में कहा गया है कि बसपा अब किसी उपचुनाव में किसी भी दल की मदद नहीं करेगी।

बसपा मुखिया मायावती के बीते दस दिन में बयानों पर गौर करें तो उन्होंने साफ किया है कि सपा के साथ उनका गठबंधन आगे भी चलता रहेगा और पार्टी 2019 के लोकसभा चुनाव भी गठबंधन के साथ ही मजबूती से लडऩे जा रही हैं। इससे पहले मायावती शुरू से ही गठबंधन के खिलाफ ही रही हैं और चुनाव से पहले गठबंधन की राजनीति से प्राय: परहेज रखा है।

इसके साथ लोकसभा चुनाव में कुछ अन्य दल भी जुड़ सकते हैं। सपा और बसपा नेताओं का मानना है कि मायावती के रूप में दलित को पहली बार प्रधानमंत्री पद का प्रत्याशी पेश करके दोनों तमाम क्षेत्रीय पार्टियों को साथ लाने में कामयाब रहेंगे। इसके साथ ही देश में मजबूत जातीय समीकरण भी बनेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here