शहीद राकेश की शहादत को सलाम,नम आंखों से अंतिम बार देवभूमि ने देखा अपना लाल

0
948

देहरादून: जम्मू के सुजवां में सैन्य शिविर पर शनिवार 10 फरवरी को हुए आंतकी हमले में देहरादून के सैनिक राकेश चन्द्र रतूड़ी शहीद हो गए। उनकी शहादत ने पूरे देश को उनकी सेवा के आगे झुकने पर मजबूर कर दिया। पाकिस्तान की इस नापाक हरकत ने पूरे देश का खून खोला दिया है। अब देश सिर्फ पाकिस्तान से अपने सैनिकों की जान का बदला मांग रहा है। कायराना हरकत को अंजाम देते हुए शिविर में घुसे आतंकवादियों ने फैमिली क्वार्टर्स में दाखिल होकर सो रहे लोगों पर गोलीबारी शुरू कर दी।

Sunjwan martyr Rakesh Chandra Raturi

उत्तराखण्ड ने भी अपना बेटा खोया। शहीद राकेश चंद्र रतुड़ी ने पार्थिव शव आज उनके घर देहारादून पहुंचा। नम आंखों से लोग उनके शव को देख उन्हे नमन करना चाहते थे। अंतिम विदाई की यात्रा शुरू हुई तो जनसैलाब ने अश्रूपूर्ण श्रद्धांजलि देकर भारत माँ की जय , जब तक सूरज चाँद रहेगा, राजेश तेरा नाम रहेगा समेत पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे भी लगाये। राकेश की अंतिम विदाई में सीएम त्रिवेंद्र रावत भी पहुंचे। उन्होंने  उन्होने पुष्पचक्र अर्पित कर शहीद रतूड़ी को श्रद्धांजलि अर्पित की।

सीएम ने शहीद के परिवार को सहारा देते हुए राज्य सरकार की ओर से हर संभव सहायता देने का आश्वासन दिया। उन्होंने परिवार को आर्थिक सहायता देने की बात कही। सीएम ने कहा कि परिवार के एक आश्रित को उनकी शैक्षिक योग्यता के आधार पर राजकीय सेवा में नियुक्ति प्रदान की जायेगी। इस अवसर पर उच्च शिक्षा राज्य मंत्री धन सिंह रावत, पूर्व मुख्यमंत्री एवं हरिद्वार सांसद डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक, विधायक गणेश जोशी, विनोद चमोली, सहदेव सिंह पुण्डीर, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने भी शहीद राकेश चन्द्र रतूड़ी को श्रद्धांजलि अर्पित की।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here