लखनऊ : पुलिस ने पकड़ा पांच क्विंटल गांजा भरा ट्रक

0
105

लखनऊ : राज्य में योगी सरकार के आने को बाद युपी पुलिस लगातार एक्शन में है । चाहे खूंखार अपराधियों के एंकाउटर की बात करें या फिर अपराध पर लगाम लगाने की युपी पुलिस हर मोर्चे पर अच्छा काम कर रही है । इसी कडी में एनसीबी लखनऊ की टीम को एक बडी सफलता मिली है ।

अंतर्राज्यीय मादक पदार्थ तस्करों की नजर अब राजधानी दिल्ली और उसके आसपास के जिलों पर है। तस्कर यहां पर नशे का कारोबार तेजी से फैला रहे हैं। एनसीबी लखनऊ की टीम ने मुखबिर की सूचना पर उड़ीसा से दिल्ली जा रहे ट्रक को चकेरी रामादेवी फ्लाईओवर पर पकड़ा। इसमें पांच क्विंटल गांजा भरा था। पुलिस ने ट्रक को कब्जे में लेकर चालक व क्लीनर को गिरफ्तार किया है।

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो लखनऊ को इनपुट मिला था कि मादक पदार्थ की एक बड़ी खेप उड़ीसा से दिल्ली को जा रहा है। यह ट्रक कानपुर होते हुए गुजरेगा। इसको लेकर गांजा पकड़ने के लिए रविवार सुबह ही एनसीबी टीम चकेरी रामादेवी पुल पर घेराबंदी के लिए लगी थी। नागालैंड का नंबर लिखे ट्रक को टीम ने घेराबंदी कर रोका और चालक व क्लीनर को गिरफ्तार किया। ट्रक में पांच क्विंटल 12 किलो गांजा बंडलों में रखा था। पकड़े गए सुजीत सबर व सागर दास निवासी अगरतला(त्रिपुरा) ने बताया कि माल उड़ीसा से लादकर चले थे और दिल्ली में पहुंचाना था। पहले भी वह कई बार दिल्ली माल लेकर जा चुके है। हर बार अलग अलग जगह डिलीवरी देनी होती है। उनका लालच केवल इतना होता है कि दिल्ली जाने पर ज्यादा रुपये मिलते है। इंटेलीजेंस अफसर अतुल द्विवेदी ने बताया कि पकड़े गए माल की कीमत करीब 55 लाख रुपये होगी। दोनों के खिलाफ लखनऊ स्थित ब्यूरो में मुकदमा लिखा गया है। तस्कर के बारे में छानबीन की जा रही है। टीम में इंटेलीजेंस अफसर जेपी सिंह, यूवी मिश्र, रामसुरेश, नितिन श्रीवास्तव व राकेश कुमार रहे।

गिरफ्तार चालक व परिचालक ने जांच में कहा की माल किसका है किसको देना है उन्हें यह नहीं पता होता। उन्हें केवल फोन से जानकारी दी जाती है और वह माल उठा लेते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here