लखनऊ : तेंदुए पर भारी पड़ी एसएचओ त्रिलोकी सिंह की दिलेरी

0
59

 

लखनऊ : प्रदेश की राजधानी में करीब तीन दिन से वन विभाग की टीम के साथ-साथ पुलिस को छका रहा तेंदुआ आज आखिरकार मारा गया। पिछले कई दिनों से लखनऊ में इस तेंदुआ का कोहराम चल रहा था ।

आपको बता दें कि लखनऊ में आशियाना के औरंगाबाद में क्षेत्र में तेंदुए को पकडऩे वन विभाग का सारा प्रयास आज बेकार हो गया। वन विभाग द्वारा रखे गए जाल भी किसी काम नहीं आए । तेंदुए ने मुन्ना नाम के एक युवक को घायल कर दिया । कोई उपाय सूझता देख पुलिस को फायर करने पड़े। । फायर से घबराए तेंदुए ने थानाध्यक्ष आशियाना त्रिलोकी सिंह तीन लोगों पर हमला बोला था। इसके बाद थानाध्यक्ष त्रिलोकी सिंह ने उसके ऊपर फायर झोंक दिया। गोली लगने से तेंदुआ घायल हो गया ।घायल होकर तेंदुआ पास के ही एक घर में घुस गया। घर के किचन में छुपकर बैठे तेंदुआ का काफी खून बह गया। इसके बाद गंभीर रूप से घायल तेंदुआ को वन विभाग की टीम ने वहां से निकाला। इस दौरान उसने दम तोड़ दिया। इसके बाद उनको लखनऊ के प्राणि उद्यान लाया गया है।

इस दौरान इलाके के लोग वन विभाग की टीम से खासे नाराज दिखे , लोगों ने अधिकारियों से मारपीट भी की जिस पर पुलिस ने किसी तरह उन्हें शांत कराया । गंभीर रूप से घायल तेंदुआ को वन विभाग की टीम ने वहां से निकाला और इलाज के लिए ले गए जहां तेंदुए ने दम तोड़ दिया । जिनकी बंदूक से तेंदुए को गोली लगी वह एसएचओ त्रिलोकी सिंह पट्टी कराकर अस्पताल से लौटे तो लोगों ने उनके लिए जिंदाबाद के नारे लगाए और तालियों से उनका स्वागत किया। इस प्रकरण में पुलिस को आईजी से इनाम मिला है। आईजी ने पुलिस टीम को 50,000 रूपए का इनाम दिया है।

 

 

 

 

 

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here