दिल की बीमारी को शरीर से दूर रखते है पालतू कुत्ते

0
124

नई दिल्ली: कुत्तो को वफादार जानवार कहा जाता है। अगर आप कुत्ते को प्यार करते है जो ये आपके शरीर के लिए भी अच्छा है। आपका यही प्यार आपकी सेहद के लिए लाभदायक है।प्यार हृदय रोगों से दूर रहने में आपकी सहायता कर सकते हैं। कुत्ते के मालिकों को हृदय रोगों का खतरा कम होता है जिससे उन्हें मृत्यु दर के जोखिम को कम करने में मदद मिलती है, एक नई रिसर्च के बाद ये सामने आया है।

वैज्ञानिक रिपोर्ट के मुताबिक, सामान्य तौर पर कुत्ते के मालिकों की उच्च स्तर की शारीरिक गतिविधि होती है, जिस कारण हृदय संबंधी बीमारियां कम होती हैं। अन्य कारण यह है कि मालिकों का सामजिक संपर्क अधिक होता है। अकेले रह रहे लोगों को यह सुरक्षा भी प्रदान करता है। जो लोग सिंगल रहते हैं उनकी फैमिली में पेट की महत्वपूर्ण जगह होती है। ऐसे व्यक्ति को 33 फीसदी अटैक का खतरा कम होता है, उनकी तुलना में जो एकदम अकेले रहते हों।

स्वीडन में उप्साला विश्वविद्यालय के शोधकर्ता मवेनिया मुबंगा ने यह जानकारी दी।“परिणामों से पता चला है कि एकल कुत्ते के मालिकों की मौत के जोखिम में 33 प्रतिशत की कटौती और कार्डियोवैस्कुलर रोग के खतरे में 11 प्रतिशत की कटौती हुई है। एक और रोचक तथ्य यह था कि शिकार करने वाले कुत्तों के मालिकों को सबसे अधिक संरक्षित किया गया था।

कुत्ते के स्वामित्व और हृदय संबंधी स्वास्थ्य के बीच सहयोग का अध्ययन करने के लिए अनुसंधान दल ने 3.4 करोड़ से अधिक कुत्ते के मालिकों की समीक्षा की, जो कि 40 से 80 वर्ष के बीच थे। 12 वर्ष की अवधि में इनकी समीक्षा की गई।उनके अध्ययन से पता चलता है कि कार्डियोवैस्कुलर रोग के कारण कुत्ते के मालिकों की मौत का जोखिम कम था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here