जम्मू- कश्मीर : सुंजवान आर्मी कैंप आतंकी हमले में दो जवान शहीद , ऑपरेशन अभी भी जारी

0
59

नई दिल्ली : जम्मू- कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ सेना ने ऑपरेशन ऑल आउट चला रखा है जिसके तहत सेना ने पिछले साल 200 से अधिक आतंकियों को मार गिराया था । ऑपरेशन ऑल आउट में सेना ने 5 बड़े आतंकी कमांडरो को भी ढेर किया था । इस ऑपरेशन से आतंकी बौखलाए हुए हैं जिसकी बानगी आज देखने को मिली । आतंकियों ने सेना के कैंप को निशाना बनाया ।

सेना की QRT की चार टीमों को आर्मी कैंप के अंदर भेजा गया है। ऑपरेशन के लिए पैरा कमांडो को भी तैनात कर दिया गया है। आइएएफ के पैरा कमांडो को उधमपुर और सरसाव से जम्मू बुलाया गया है। उस घर को चारों ओर से घेर लिया गया है, जिसमें आतंकी छिपे बैठे हैं। बताया जा रहा है कि आतंकी हमले में दो जवान शहीद हो गए हैं, एक जवान की बेटी भी हमले में घायल हो गई है। गृह मंत्रालय और रक्षा मंत्रालय पूरी घटना पर नजर बनाए हुए है। इस बीच आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने  इस हमले की जिम्मेदारी ली है।

 

जम्मू- कश्मीर में आतंकियों ने सेना के कैंप को निशाना बनाया है। सेना कैंप पर आतंकी हमले की जानकारी मिलते ही पूरे इलाके में रेड अलर्ट जारी कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि कैंप के अंदर से गोलियां चलने की आवाज सुनी गई, जिसके बाद इलाके की घेराबंदी कर दी गई। यह हमला सुंजवान आर्मी कैंप पर किया गया। आतंकियों ने सुबह 4:55 बजे अंधेरे का फायदा उठाते हुए सेना के कैंप पर फायरिंग शुरू कर दी। जानकारी के मुताबिक यह हमला कैंप के फैमिली क्वॉर्टर्स पर किया गया।

आपको बता दें कि सुंजवान आर्मी कैंप में सेना के जवानों के हजारों क्वॉटर्स हैं। इसमें करीब तीन हजार जवान रहते हैं। यह जम्मू शहर में ही है। बताया जा रहा है कि कैंप के पीछे की दीवार से कूदकर आतंकी अंदर दाखिल हुए। आतंकियों ने गार्ड्स के बंकर पर सबसे पहले फायरिंग शुरू की। आतंकी अभी भी कैंप के अंदर मौजूद हैं। रुक-रुककर अंदर से फायरिंग की आवाजें आ रही हैं। हमले में एक जवान की बेटी भी घायल हो गई है। वहीं, सेना शिविर के 500 मीटर के आसपास के सभी स्कूलों को जिला प्रशासन द्वारा बंद रहने निर्देश दिए गए हैं। बता दें कि साल 2006 में भी आतंकवादियों ने इसी सेना के स्टेशन पर हमला किया था। उस हमले में 12 जवान शहीद हो गए थे और सात अन्य घायल हो गए थे। वहीं दो आत्मघाती आतंकी भी मारे गए थे।

 

पाकिस्तान की ओर से लगातार आजकल सीमा पर उकसाने वाली कार्रवाई की जा रही है। सीमा पार से सीजफायर का उल्लंघन किया जा रहा है। जिसके चलते पूरे देश में पाकिस्तान के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग जोर पकड़ रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here