छात्रों की मजबूत नींव ABM सीनियर सेकेंडरी स्कूल की कामयाबी का राज़

0
50

हल्द्वानी: शहर को कुमाऊं द्वार कहने के साथ ही शिक्षा हब भी कहा जाता है। पूरे कुमाऊं के छात्र अपने उज्जवल भविष्य की नींव को मजबूत करने के लिए हल्द्वानी का रुख करते है। पिछले एक दशक में हल्द्वानी की पहचान शिक्षा हब के तौर पर ही हुई है।

इसका उदाहरण है छात्रों की कामयाबी जो इंजीनियरिंग से लेकर एमबीबीएस की प्रवेश परीक्षाओं में स्थान प्राप्त कर रहे है।शहर में शिक्षा की गुणवत्ता की बात की जाए और  गांधी आश्रम फतेहपुर हल्द्वानी स्थित एबीएम सीनियर सेकेंडरी का नाम नहीं आए ये होता नहीं है। हर साल एबीएस स्कूल के नतीजे बार-बार साबित करते हैं। पिछले 5 सालों में एबीएम ने दो दर्जनों से ज्यादा छात्रों ने ऑल इंडिया लेवल में एबीबीएस और इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा में कामयाबी पाई है।

इस सभी विषय पर स्कूल के संचालक दिवस शर्मा कहते है कि छात्रों की कामयाबी का श्रैय केवल अध्यापकों और छात्रों को जाता हैं। छात्र अपनी जिंदगी का एक अहम समय स्कूल को देता है और अगर उस वक्त का यही इस्तेमाल किया जाए तो कामयाबी कभी पीछे नहीं रहती है। उन्होंने कहा कि अगर इस तरह की बातों से छात्रों का प्रोत्साहन बने रहता हैं। हमारी स्कूल की पहचान छात्रों की कामयाबी से है। उन्होंने कहा कि एबीएम ने आर्थिक रूप से भी छात्रों की मदद करता आया है। स्कूल के प्राचार्य रोशन लाल कहते है कि हमारा लक्ष्य हर साल अच्छा करने का होता है। भले ही वो एक प्रतिशत हो लेकिन आगे ऐसे ही बढ़ा जाता है। उन्होंने कहा कि कामयाबी पाने के लिए सालों का परिश्रम काम आता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here