एक दिन की छुट्टी लेकर हल्द्वानी घर आया था फौजी अमित, सड़क हादसे में हुई मौत

0
21577

हल्द्वानी: दुपहिया वाहन के लिए हेलमेट को जीवन रक्षक कहा जाता है। कई बार देखा जाता है कि लोग हेलमेट पहनने के बजाह उसे गाड़ी के आगे टांग देते हैं। ऐसा ही कुछ हल्द्वानी निवासी फौजी ने किया और सड़क हादसे में उनकी मौत हो गई। मृतक फौजी अमित सिंह बिष्ट (21) डहरिया स्थित रणबीर गार्डन किसी शादी में गए थे। शादी समारोह से वापस आते वक्ते मुखानी चौराहे से दोनहरिया जाने वाले मार्ग पर विवेकानंद हॉस्पिटल के पास उनकी बाइक फिसल गई। हादसे के बाद अमित का सिर दिवार से टक्करा गया। पुलिस ने बताया कि अमित के पास हेलमेट तो था लेकिन उसने उस पहना नहीं था। अगर उसने हेलमेट पहनना होता तो उनकी जान बच सकती थी।

एक्सिडेंट के बाद पीछे से आ रहे साथियों ने अमित को विवेकानंद हॉस्पिटल में भर्ती कराया लेकिन उपचार के कुछ देर बाद ही उसने दम तोड़ दिया।

परिजनों के मुताबिक अमित बिष्ट रानीखेत से आर्मी बैंड में शामिल होकर हल्द्वानी आया था। अपने घर आने के कारण उसने मंगलवार का अवकाश भी लिया था। अमित बिष्ट कुमाऊं रेजीमेंट सेंटर रानीखेत में तैनात थे। उनके पिता बलवंत सिंह बिष्ट भी बीएसएफ में है और ओडिशा में उनकी तैनाती है। अमिक का एक बड़ा भाई है तो इंजीनियर है और एक छोटी बहन है। अमित एक दिन की छुट्टी लेकर घर आया था। इस हादसे के बाद घर पर कोहराम मच गया है।  अमित की मां मुन्नी देवी बिष्ट इस हादसे को स्वीकार नहीं कर पा रही हैं। पुलिस ने बताया कि अमित के पिता और भाई के आने के बाद शव का पोस्टमार्टम करवा कर शव को सौंप दिया जाएगा।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here