उत्तराखण्ड : विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन के तेवरों पर सख्त कारवाई का ऐलान

0
195

देहरादून : उत्तराखण्ड में भाजपा की त्रिवेंद्र सरकार के लिए मुश्किलों का दौर चल रहा है । पहले 20 विधायकों की बगावत और अब विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन के तेवरों के कारण उसकी फजीहत हो रही है ।

खानपुर से भाजपा विधायक कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन के तेवरों को पार्टी संगठन ने बेहद गंभीरता से लिया है। जांच की कड़ी में उन सभी क्लिपिंग को देखा जा रहा है, जिसमें चैंपियन ने कथित रूप से विवादित बोल बोले हैं। प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने कहा कि इस मामले में प्रथम दृष्ट्या यदि सरकार, मंत्री अथवा पार्टी नेताओं के खिलाफ अपशब्दों की बात सामने आती है तो चैंपियन से स्पष्टीकरण मांगा जाएगा। संतोषजनक जवाब न मिलने की दशा में अनुशासनात्मक कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

विधायक चैंपियन इन दिनों सरकार को दिखाए जा रहे तेवरों को लेकर चर्चा में हैं। उनके कुछ वीडियो भी सोशल मीडिया में वायरल हुए हैं। हाल में उन्होंने रुड़की में यह तक कह दिया कि वे चार बार के विधायक हैं। सरकार मंत्री बनाए अथवा नहीं, चैंपियन शेर ही रहेगा। इससे पहले भी वह खुद को मंत्री न बनाए जाने पर नाराजगी व्यक्त कर चुके हैं और यह तक सुझाव दे चुके हैं कि उन्हें राजस्थान की राजनीति में भेज दिया जाए।

प्रदेश अध्यक्ष भट्ट ने कहा कि सभी क्लिपिंग देखी जा रही हैं। प्रथम दृष्ट्या यदि सरकार, किसी मंत्री अथवा बड़े नेता के खिलाफ कोई अपशब्द या अनुशासनहीनता की बात आती है तो विधायक चैंपियन से स्पष्टीकरण मांगा जाएगा। संतोषजनक जवाब न मिलने पर बात अनुशासनहीनता की श्रेणी में आती है तो इस लिहाज जो कार्रवाई होगी, वह की जाएगी। यह बात सभी को समझ लेनी चाहिए कि भाजपा एक अनुशासित पार्टी और इसमें अनुशासनहीनता की किसी को इजाजत नहीं है। उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय अध्यक्ष ने उनकी बातों को गंभीरता से सुना और भरोसा दिलाया कि परेशान होने की जरूरत नहीं है। उन्होंने बताया कि वह प्रधानमंत्री से मिलने के लिए समय लेने की कोशिश भी कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here