अल्मोड़ा की नेहा बनी सेना में अफसर, गांव मना रहा है खुशी

0
73

अल्मोड़ा: लमगड़ा विकासखंड के जैंती तहसील के मल्ला बिनौला गांव की होनहार बेटी नेहा भण्डारी ने पुरे उत्तराखण्ड का नाम रोशन किया है । चार साल के कठोर परिश्रम के बाद भारतीय थल सेना के एमएनएस में नेहा भण्डारी लेफ्टिनेन्ट बन गई है। हाल में ही आर्मी मेडिकल कालेज पुणे में हुई पासिंग आउट परेड में पिता महेन्द्र सिंह भण्डारी और माता जानकी भण्डारी ने बेटी के कंधे पर स्टार लगाए तो उनकी आखों से खुशी के आंसू छलक पड़े। नेहा भण्डारी बचपन से ही पढ़ाई में मेधावी रही है। उन्होंने अपनी हाईस्कूल और इंटर की पढ़ाई आर्मी पब्लिक स्कूल रानीखेत से पूरी की।

साल 2013 में नेहा का चयन आर्मी मेडिकल कालेज पुणे में बीएससी नर्सिंग के लिए हुआ था। चार साल के कठोर प्रशिक्षण के बाद नेहा भण्डारी भारतीय थल सेना के एमएनएस में लेफ्टिनेन्ट बन गई है। हाल ही मैं ही आर्मी मेडिकल कालेज पुणे में हुई पार्सिंग आउट परेट में आखिरी पग पार कर वह भारतीय जल सेना की अभिन्न अंग बन गई। इस मौके पर बोलते हुए नेहा के पिता महेन्द्र सिंह ने कहा कि उन्हें अपनी बेटी पर गर्व है उसने पुरे उत्तराखण्ड का नाम रोशन किया है । नेहा के पिता महेन्द्र सिंह भण्डारी सेवानिवृत्त जेसीओ हैं जबकि उनकी माता जानकी भण्डारी गृहणी है। उनका बड़ा भाई सुमित भण्डारी चिकित्सक की पढ़ाई कर रहा है। जबकि छोटी बहन अनु भण्डारी बीबीए द्वितीय वर्ष में अध्ययनरत है। नेहा ने अपनी सफलता का श्रेय प्रधानाचार्य कमलेश जोशी व अपने माता-पिता  दिया है। नेहा अपने गांव बिनौला की पहली महिला लेफ्टिनेन्ट बनी है। नेहा के लेफ्टिनेन्ट बनने पर उनके गांव मल्ला बिनौला में खुशी की लहर है।

नेहा का कहना है कि अगर बेटियों को मौका दिया जाए तो वह हर क्षेत्र में मुुकाम हासिल कर सकती है। अभिभावकों को बेटी की शिक्षा पर विशेष ध्यान देना चाहिए। नेहा भण्डारी के लेफ्टिनेन्ट बनने पर क्षेत्र के विधायक गोविन्द सिंह कुंजवाल, सेवानिवृत प्रभारी अधिकारी मोहन सिंह बगड़वाल, शेर सिंह बगड़वाल, प्रधानाचार्य कमलेश जोशी, हेमलता बगड़वाल, पारस नाथ सिंह, प्रधान विमला देवी ने खुशी व्यक्त की है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here